Rajasthan ki Jansankhya Kitni Hai in 2022

नमस्कार मित्रों, आज हम आपको Rajasthan ki Jansankhya Kitni Hai ? के बारे में विस्तार से जानकारी देने जा रहें है . अगर आप भी ये जानना चाहते है की राजस्थान की कुल जनसंख्या कितनी है और 2011 के आंकड़ों के अनुसार राजस्थान की जनसंख्या में क्या नये बदलाव आये है तो पोस्ट को अंत तक पढ़ें –

राजस्थान जनसंख्या की दृष्टि से भारत का पाँचवाँ सबसे बड़ा राज्य है। 2011 की जनगणना के अनुसार यह सातवां सबसे बड़ा राज्य था। राजस्थान अपने पर्यटन, खान-पान और विरासत के साथ-साथ अपनी जनसंख्या में वृद्धि करने का रिकॉर्ड दिन-ब-दिन तोड़ रहा है।

Quick Links

राजस्थान की जनसँख्या कितनी है?

2011 की जनगणना के अनुसार राजस्थान की कुल जनसंख्या 68,548,437 है। जिसमें से राजस्थान की पुरुष जनसंख्या 35,554,169 है, जबकि महिला जनसंख्या 32,994,268 है।

Rajasthan ki Jansankhya Kitni Hai in 2022

2011 की जनगणना के अनुसार राजस्थान की कुल जनसंख्या छह करोड़ पचहत्तर लाख पचास हजार थी। {अंकों में – 6,85,48000}। जिसमें पुरुषों की संख्या तीन करोड़ पचपन लाख थी। or तीन करोड़ उनतीस लाख महिलाएं। लिंगानुपात की बात करें तो प्रति 1000 पुरुषों पर 920 महिलाएं हैं। साक्षरता का प्रतिशत (शिक्षित लोग) 65% है।

2011 की जनगणना के अनुसार राजस्थान की जनसंख्या

  • कुल जनसंख्या : 68,548,437
  • पुरुष जनसंख्या : 35,554,169
  • महिला जनसंख्या : 32,994,268

राजस्थान की कुल जनसंख्या 342,239 प्रति वर्ग किलोमीटर में फैली हुई है। जो भारत की कुल जनसंख्या का 5.66% है। जिसमें सबसे अधिक जनसंख्या वाला जिला जयपुर (6,626,178) है जबकि सबसे कम जनसंख्या वाला जिला जैसलमेर (669,919) है।

राजस्थान के सबसे अधिक आबादी वाले जिले

  • जोधपुर – 3,687,165
  • अलवर – 3,674,179
  • नागौर – 3,307,743

राजस्थान के सबसे कम आबादी वाले जिले

  • जैसलमेर – 669,919
  • प्रतापगढ़ – 867,848
  • सिरोही – 1,036,346
  • बूंदी – 1,110,906

2021 में राजस्थान की जनसंख्या के अनुमानित आंकड़े

गैर सरकारी आंकड़ों के अनुसार 2021 में राजस्थान की अनुमानित कुल जनसंख्या 79,502,477 है। जिसमें पुरुषों की अनुमानित जनसंख्या 41,235,725 है, जबकि महिलाओं की अनुमानित जनसंख्या 38,266,753 है।

Rajasthan ki Jansankhya Kitni Hai in 2022
Rajasthan ki Jansankhya Kitni Hai in 2022

2021 में राजस्थान की जनसंख्या

  • कुल जनसंख्या : 79,502,477
  • पुरुष जनसंख्या : 41,235,725
  • महिला जनसंख्या : 38,266,753

राजस्थान की धार्मिक जनसंख्या

धार्मिक आबादी की बात करें तो 2011 की जनगणना के अनुसार राजस्थान में हिंदुओं की आबादी सबसे ज्यादा (60,657,103) है, जबकि सबसे कम आबादी बौद्ध (12,185) है।

  • हिंदू – 88.49%
  • मुस्लिम – 9.07%
  • सिख – 1.27%
  • ईसाई – 0.14%
  • बौद्ध – 0.02%
  • जैन – 0.91%
  • अघोषित – 0.10%
  • अन्य – 0.01%

राजस्थान का लिंग अनुपात कितना है ?

प्रति 1000 पुरुषों पर महिलाओं की जनसंख्या को लिंगानुपात कहते है । 2011 की जनगणना के अनुसार राजस्थान का लिंगानुपात 928 है। जिसमें बच्चों का लिंगानुपात (0-6 वर्ष) 888 है। राजस्थान में सर्वाधिक लिंगानुपात वाला जिला डूंगरपुर (994) है जबकि सबसे कम लिंगानुपात वाला जिला है। लिंगानुपात धौलपुर (846) है।

राजस्थान में सर्वाधिक लिंगानुपात वाला जिला

  • डूंगरपुर – 994
  • राजसमंद – 990
  • पाली – 987
  • प्रतापगढ़ – 983

राजस्थान में सबसे कम लिंगानुपात वाला जिले

  • धौलपुर – 846
  • जैसलमेर – 852
  • करौली – 861
  • भरतपुर – 880

राजस्थान की साक्षरता दर क्या है ?

2011 की जनगणना के अनुसार राजस्थान की कुल साक्षर जनसंख्या 38,275,282 है जो कुल जनसंख्या का 16.11% है। जिसमें साक्षर पुरुष जनसंख्या 23,688,412 है जो कुल जनसंख्या का 79.19% है। जबकि साक्षर महिलाओं की जनसंख्या 14,586,870 है जो कुल जनसंख्या का 52.13% है।

उच्चतम साक्षरता वाले जिले

  • कोटा – 76.56%
  • जयपुर – 75.51%
  • झुंझुनू – 74.13%
  • सीकर – 71.91%

सबसे कम साक्षरता वाले जिले

  • जालोर – 54.86%
  • सिरोही – 55.25%
  • प्रतापगढ़ – 55.97%
  • बांसवाड़ा – 56.33%

राजस्थान की जनसंख्या दशकीय वृद्धि दर

किसी भी देश के लोगों की तेजी से बढ़ती संख्या को जनसंख्या वृद्धि कहते हैं।

10 वर्षों के मध्य में जनसंख्या की प्रतिशत वृद्धि दर को दशकीय की वृद्धि दर कहा जाता है। राजस्थान की जनसंख्या वृद्धि 21.3% है, जिसमें सबसे अधिक दशकीय जनसंख्या वृद्धि वाला जिला बाड़मेर है, जबकि सबसे कम दशकीय जनसंख्या वृद्धि वाला जिला गंगानगर है।

इसे भी पढ़े – यूपी की जनसंख्या कितनी है ?

राजस्थान में बढ़ती जनसंख्या के कुछ प्रमुख कारण

  • साक्षरता का अभाव- राजस्थान की 60 प्रतिशत से अधिक जनसंख्या गांवों में निवास करती है। और जो अनपढ़ हैं, वे गांव में ही अधिक हैं। तो आप इससे अंदाजा लगा सकते हैं कि जनसंख्या और साक्षरता में क्या संबंध है।
  • वंश बढ़ाने की परंपरा – जहाँ तक मुझे लगता है। यह पूरे भारत में एकमात्र राज्य है। जहां एक पिता एक लड़के को, पांच से छह लड़कियों को एक बेटे को जन्म देता है।

FAQs – Rajasthan ki Jansankhya Kitni Hai

Rajasthan ki jansankhya vridhi dar kya hai ?

राजस्थान में 2001 से 2011 तक की जनसंख्या वृद्धि दर 21.30 %अंकित की गयी थी ,जो की आगामी जनगणना में लगभग 26.30% हो जाने का अनुमान है

राजस्थान की साक्षरता कितने प्रतिशत है ?

2011 की जनगणना के अनुसार 66.11 %

Related Posts -:

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply